Monday, 26 September 2022, 4:29 AM

Dharm Karam

नर्मदा मैया के घाटों पर उमडा श्रदालुओं को सैलाब

Updated on 25 September, 2022, 17:30
सर्व पितृ मोक्ष अमावस्या के अवसर पर आज सुबह से ही नर्मदापूरम में मां नर्मदा के घाटों पर श्रदालुओं का सैलाब उमड पडा। श्रदालु नदी में स्‍नान करने के बाद विधिवत पितरों का तर्पण करते हुए उन्‍हें विदाई दे रहे हैं। रविवार को तड़के 4 बजे से ही लोगों के... आगे पढ़े

पितृपक्ष में संन्यासियों के लिए कब होता है श्राद्ध , विधि और धार्मिक महत्व

Updated on 25 September, 2022, 6:45
भाद्रपद मास की पूर्णिमा से पितृ पक्ष प्रारंभ हुआ। पितृपक्ष में आज के दिन द्वादशी तिथि का श्राद्ध किया जाता है। द्वादशी तिथि के दिन पितरों के साथ साधुओं संतों के श्राद्ध की भी परंपरा बताई गई है। मान्यता है कि जो भी व्यक्ति अपने (मरे) पूर्वज का द्वादशी तिथि... आगे पढ़े

मोरपंख का प्रभाव दुश्मन को घुटने पर ले आए, बस कर लें ये गुप्त उपाय

Updated on 25 September, 2022, 6:30
श्री कृष्ण को मोरपंख अति प्रिय है. इसके बिना श्रीकृष्ण जी का पूजन अधूरा माना जाता है. मोरपंख जितना ज्यादा देखने में खूबसूरत है उससे कई ज्यादा यह प्रभावशाली भी है. ज्योतिष के अनुसार, मोरपंख घर में रखने से बुरी शक्तियों का नाश होता है. इतना ही नहीं, मोरपंख के उपाय... आगे पढ़े

मैकल पर्वत से घिरा हजार साल पुराना मंदिर, लड़ रहा अपने अस्तित्व की लड़ाई

Updated on 25 September, 2022, 6:15
CG में है खजुराहो जैसा भोरमदेव मंदिर करीब 1 हजार साल पुराना है ये मंदिर अव्यवस्था की मार झेल रहा भोरमदेव मंदिर न शासन मंदिर पर ध्यान दे रहा न प्रशासन छत्तीसगढ़ के कवर्धा में है ये मंदिर आप में से लगभग लोगों ने खजुराहो का नाम सुना होगा जो न केवल भारत देश में... आगे पढ़े

वाणी का शरीर पर प्रभाव  

Updated on 25 September, 2022, 6:00
प्रसन्नता से होता है शरीर पुष्ट एवं प्रोध से होती है हानी  मानव शरीर में अनेक ग्रंथियां होती हैं,पियूष ग्रंथि मस्तिष्क में होती है, उससे 12 प्रकार के रस निकलते है, जो भावनाओं से विशेष प्रभावित होती हैं। जब व्यक्ति प्रसन्नचित होता है, तो इन ग्रनथियों से विशेष प्रकार के... आगे पढ़े

शारदीय नवरात्रि में जरूर करें दुर्गा स्तुति का पाठ, पूरी होगी हर मनोकामना

Updated on 24 September, 2022, 6:45
अश्विन माह में शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत होती है। इस साल शक्ति साधना का ये पावन पर्व 26 सितंबर से शुरू हो रहा है, जो कि 04 अक्टूबर तक मनाया जाएगा। वहीं 05 अक्टूबर को विजयादशमी के साथ इस उत्सव की समाप्ति हो जाएगी। हिंदू... आगे पढ़े

स्त्री हो या पुरुष, इन 6 चीजों पर कभी घमंड न करें क्योंकि एक दिन इनका जाना तय है

Updated on 24 September, 2022, 6:30
धर्म ग्रंथों के अनुसार, दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य महान तपस्वी थे। उन्होंने कई मौकों पर असुरों का विनाश होने से बचाया। इन्हें भगवान शिव का पुत्र भी कहा जाता है। गुरु शुक्राचार्य द्वारा लिखी गई कई पुस्तकें आज भी उपलब्ध हैं। इन्हीं में एक है शुक्र नीति (Shukra Niti )।... आगे पढ़े

सर्व पितृ अमावस्या पर इन नियमों के पालन से ही पूर्ण माना जाएगा श्राद्ध कर्म, पितरों को मोक्ष और पर

Updated on 24 September, 2022, 6:15
25 सितंबर दिन रविवार को सर्व पितृ अमावस्या मनाई जाएगी. यह पितृपक्ष का अंतिम दिन होता है. पितृपक्ष के समय पूर्वज धरती पर आते हैं वे अपने वंशजों से अपने लिए श्राद्ध की इच्छा रखते हैं. इसलिए पितरों के निमित्त तर्पण करने के साथ उनके लिए भोजन दान जरूर करना चाहिए.... आगे पढ़े

मौन का तन मन की सुन्दरता के लिये महत्व 

Updated on 24 September, 2022, 6:00
प्रत्येक मनुष्य सुन्दर एवं स्वस्थ्य रहना चाहता है। सुन्दरता एवं स्वस्थ्य का राज मौन मै छिपा हुआ है। सामान्यत: चुप रहना मौन है, प्राचीन पुराण बचन के साथ ईष्या, डाह, छल, कपट और हिन्सा को कम करना मोन होता है। मनोवैज्ञानिक ‘फ्रायड’ का कहना है कि जीवन अन्तर्द्वद्वी शृंखलाओं से... आगे पढ़े

पीरमुहानी में अयोध्या के राम-जानकी मंदिर की तरह दिखेगा पंडाल, आशीर्वादी रूप की होती है पूजा

Updated on 23 September, 2022, 6:45
दुर्गोत्सव के दौरान राजधानी पटना का मुख्य केंद्र पीरमुहानी से लेकर आर्य कुमार रोड के आसपास रहता है. पूजा के दौरान यह इलाका तीन दिनों तक सोता नहीं बल्कि जागता रहता है. दिन-रात का अंतर मालूम ही नहीं होता है. इस इलाके में एक से बढ़कर एक मां की प्रतिमाएं... आगे पढ़े

महिलाओं को गलती से भी नहीं करना चाहिए ये 6 काम, लेकिन आज-कल ये आम बात है

Updated on 23 September, 2022, 6:30
धर्म ग्रंथों में लाइफ मैनेजमेंट के अनेक सूत्र बताए गए हैं। साथ ही ये भी बताया गया है कि महिलाओं को कौन-कौन से काम भूलकर भी नहीं करना चाहिए, नहीं तो इसका बुरा असर उनकी मैरिड लाइफ पर भी पड़ सकता है। मनुस्मृति (Manu Smriti) में भी स्त्रियों से संबंधित अनेक... आगे पढ़े

मौत के वक्त इन चीजों का साथ दिलाता है स्वर्ग में वास

Updated on 23 September, 2022, 6:15
मृतक की आत्‍मा की शांति के लिए पितृ पक्ष में श्राद्ध, तर्पण करना बहुत अहम होता है. इससे पूर्वजों को स्‍वर्ग मिलता है. लेकिन कुछ चीजें इतनी शुभ मानी गई हैं कि मरते समय ये पास हों तो भी स्‍वर्ग मिलता है. गरुड़ पुराण में इन चीजों को बहुत शुभ माना... आगे पढ़े

ध्वनि का प्राणी शरीर पर प्रभाव  

Updated on 23 September, 2022, 6:00
यह जानकर खुश होगें की ध्वनि का प्रभाव प्रत्येक जीव के शरीर पर पड़ता है। वर्तमान औधोगिकी करण और तकनीकि से ध्वनि प्रदूषण अधिक मात्रा में बढ़ रहा है। इस ध्वनि प्रदूषण के परिणाम देखते हुये नोबेल पुरस्कार विजेता डॉ. राबर्ट कॉक ने सन् 1925-26 में एक बात कही थी... आगे पढ़े

पितरों का आशीर्वाद जरुरी 

Updated on 22 September, 2022, 7:00
पितरों के आशीर्वाद से जीवन में कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती है। घर के बड़े-बुजुर्ग सिर्फ मान-सम्मान चाहते हैं, इनको कभी नहीं भूलना चाहिए। जैसे प्यार पर घर के छोटों का अधिकार होता है वैसे ही पूर्वज सम्मान के अधिकारी होते हैं। खुश होकर ये दिल से अपने... आगे पढ़े

स्नान भी बना सकता धनवान

Updated on 22 September, 2022, 6:45
ग्रहों की स्थिति का आपके जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है। अगर यह अनुकूल होते हैं तो आपके जीवन में सब कुछ अच्‍छा चलता है। ग्रहों की दशा बदलने पर व्‍यक्ति को अमीर से गरीब और राजा से रंक बनने में देर नहीं लगती। आज हम आपको बता रहे... आगे पढ़े

अष्टविनायक वरदविनायक मंदिर की अनोखी कथा 

Updated on 22 September, 2022, 6:30
रायगढ़ जिले के कोल्हापुर में महड़ गांव में है अष्टविनायक तीर्थ का चौथा मंदिर वरदविनायक श्री गणेश मंदिर जहां सालों से एक दीप लगातार जल रहा है। अष्ट विनायक में चौथे गणेश हैं श्री वरदविनायक। यह मंदिर महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के कोल्हापुर क्षेत्र में एक सुन्दर पर्वतीय गांव है... आगे पढ़े

कर्ज से बचने करें ये काम

Updated on 22 September, 2022, 6:15
पूरे दिन जाने-अनजाने हमसे ऐसे कई कार्य हो जाते हैं, जिनके प्रभाव के बारे में बाद में पता चलता है। शास्त्रों में बताया गया है कि सही समय पर सही कार्य करने से ना सिर्फ भगवान की कृपा मिलती है बल्कि आपकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होती है। वहीं कुछ... आगे पढ़े

पितरों का आशीर्वाद हासिल करने करते हैं श्राद्ध

Updated on 22 September, 2022, 6:00
भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि के दिन श्राद्ध पक्ष शुरू हो जाते हैं। पितरों का आशीर्वाद हम पर बना रहे इसलिए उनकी आत्मा की शांति के लिए हर साल श्राद्ध करते हैं। उनके आशीर्वाद से घर में सुख-शांति बनी रहती है।  इतने होते हैं श्राद्ध निर्णय सिंधु और भविष्य में... आगे पढ़े

भगवान खाटू श्याम बाबा की जीवन लीला पर हुआ मंचन, भारत में पहली बार हुई ऐसी लीला

Updated on 21 September, 2022, 6:45
भारत में प्रथम बार हो रहे खाटू श्याम बाबा के जीवन लीला पर आधारित मंचन के लिए मुंबई से आए लगभग 45 कलाकारों की टीम ने इंदौर में 18 सितम्बर को रविंद्र नाट्य में सुंदर और मनमोहक प्रस्तुति दी। खाटू श्याम बाबा की भूमिका में 20 वर्षीय मोहित जोशी अपनी अदाकारी... आगे पढ़े

घर में खरीदकर लाएं ये एक चीज, कभी नहीं होगी धन की कमी, हमेशा रहेगा लक्ष्मीजी का वास

Updated on 21 September, 2022, 6:30
श्रीयंत्र को सभी यंत्रों का राजा माना जाता है. एक तरह से इसे संपूर्ण ब्रह्मांड का प्रतीक भी माना जाता है. मुख्य रूप से इस यंत्र की पूजा आर्थिक समस्याओं को दूर करने के लिए की जाती है. माता लक्ष्मी का यह यंत्र आपको धनवान बनाता है. श्रीयंत्र है क्या गया के राजा... आगे पढ़े

पाप कर्म का फल हानिकारक है 

Updated on 21 September, 2022, 6:15
कहहिं कबीर यह कलि है खोटी। जो रहे करवा सो निकरै टोटी।। एक छोटा सा पहाड़ी गांव था। ग्राम के सभी लोग शराब व मांस का सेवन करते थे। जो शराब नहीं पीता था, जो मांस नहीं खाता था उसे ग्राम सजा के रूप में ग्राम बाहर कर देते थे।... आगे पढ़े

बिल्वपत्र का पेड़ घर में है तो क्या मिलेंगे शुभ फल?

Updated on 21 September, 2022, 6:00
हिन्दू धर्म में बिल्व के वृक्ष को बहुत ही पवित्र माना जाता है। बिल्व पत्र को बेल पत्र भी कहा जाता है। माना जाता है कि यदि आपने बिल्वपत्र के पेड़ को घर के आसपास लगा लिया तो आपको कई तरह के फायदे होंगे। यदि यह गलत दिशा में लगा... आगे पढ़े

चाणक्य नीति: ये 3 दुख घर की सुंदरता को छीन लेते हैं

Updated on 20 September, 2022, 6:45
कहा जाता है कि खुशियां और गम मानव जीवन का अहम हिस्सा है। इनमें से कोई भी चीज़ स्थायी नहीं है। समझगार व्यक्ति वही होता जो इन दोनों में एक समान रह सके। कहने का अर्थ है जो व्यक्ति सुख में अधिक उत्तेजित न हो और दुख में हिम्मत न हारें।... आगे पढ़े

नदी-तालाब में तर्पण कर लोग पितरों को कर रहे याद, इस संकेत से समझे पितर आपसे नाराज है या खुश

Updated on 20 September, 2022, 6:30
पितृपक्ष में पूर्वजों के निमित्त पिंडदान व तर्पण के लिये आश्विन माह खास माना गया है.,पितृपक्ष भादो माह की पूर्णिमा तिथि को अगस्त्य मुनि के जल अर्पण से शुरू होकर आश्विन माह के कृष्ण पक्ष अमावस्या तिथि को तर्पण का समापन होगा. पूर्वजों को जल अर्पण करने को लेकर जिलेभर... आगे पढ़े

इंदिरा एकादशी पर बस एक बार ये उपाय आजमाएं, कर्ज और जीवन भर के कष्टों से मुक्ति पाएं

Updated on 20 September, 2022, 6:15
हिन्दू पंचांग के अनुसार, आश्विन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को इंदिरा एकादशी का व्रत रखा जाता है. इस साल इंदिरा एकादशी का व्रत 21 सितंबर 2022, दिन मंगलवार को रखा जाएगा. इस दिन भगवान विष्णु की विधिवत पूजा की जाती है. पितृपक्ष के दौरान पड़ने के कारण इस... आगे पढ़े

अनमोल हैं कड़वे बोल 

Updated on 20 September, 2022, 6:00
किसी ने कहा है कि अंधेरे में माचिस तलाशता हुआ हाथ, अंधेरे में होते हुए भी अंधेरे में नहीं होता, इस तलाश को अपने भीतर निरंतर जीवित रखना कोई साधारण बात नहीं है, परंतु जो लोग सफर की हदों को पहचानते हैं, जिन्हें हर मंजिल के बाद किसी नए सफर... आगे पढ़े

घर में केले का पेड़ होना कैसा माना जाता है?

Updated on 19 September, 2022, 6:45
हिन्दू धर्म में केले का पेड़ बहुत ही पवित्र माना जाता है। दक्षिण भारत में केले का पेड़ बहुतायत में पाया जाता है। केले का फल, फूल, पत्ते, तना, जड़ और डंडल इन छह चीजों का उपयोग होता है और इनके कई फायदे भी हैं। उत्तर भारत में खाकरे या पलाश... आगे पढ़े

स्त्री हो या पुरुष, ये 4 काम करने से बाद नहाना जरूर चाहिए

Updated on 19 September, 2022, 6:30
आचार्य चाणक्य के अनुसार अच्छी सेहत ही सबसे बड़ा धन होती है क्योकि सेहत ठीक रहेगी तो आप किसी भी तरह की परेशानी से लड़ने में सक्षम रहेंगे। आचार्य चाणक्य (Chanakya Niti) इससे संबंधित भी कई नीतियां अपनी पुस्तकों में बताई है। आचार्य चाणक्य के अनुसार, काफी बीमारियां तो केवल नहाने... आगे पढ़े

सम्मान करो संपूर्णता से 

Updated on 19 September, 2022, 6:00
तुम किसी का सम्मान उसकी ईमानदारी, बुद्धिमत्ता, प्रेम और कार्य कुशलता जैसे सद्गुणों के लिए करते हो परंतु समय के साथ-साथ इन गुणों में परिवर्तन आता है। जिसके कारण तुम उनका सम्मान नहीं कर पाते। तुम केवल सद्गुणों का, महानता का सम्मान करते हो। मैं संपूर्णता से हर एक का... आगे पढ़े

हे कागदेव ! पितृपक्ष में सद्बुद्धि दीजिए

Updated on 18 September, 2022, 6:15
हे ! कागदेव आप कलयुग के पितृदेव हैं। हम आपकी श्रेष्ठता को नमन करते हैं। हम समदर्शी सृष्टि का भी अभिनंदन करते हैं, जिसने आपको पितृपक्ष यानी पखवारे भर के लिए श्रेष्ठ माना है। लेकिन आपका सम्मान देख इहलोकवासी पिताम्हों को ईर्ष्या होती है। कागदेव आप नाराज मत होइएगा। लेकिन... आगे पढ़े

मूमल के लिए प्रत्येक पाठक
एक विचार है, बाजार नहीं


समय-समय पर कला जगत संबंधी 

महत्वपूर्ण समाचार और 

जानकारियां पाने के लिए 

हमें ई- मेल करें।

moomalnews@gmail.com

फोन  9928487677